भारत में एग्री कमोडिटीज की ट्रेडिंग

भारत मुख्यतः एक कृषि अर्थव्यवस्था है, दुनिया में कृषि उत्पादन में दूसरी रैंकिंग । बढ़ती आबादी के साथ तालमेल रखते हुए, पिछले कई दशकों में बढ़ते कृषि उत्पादन ने विपणन में प्रमुख चुनौतियां खड़ी कर दी हैं, साथ ही आपूर्ति, भंडारण, और वितरण । अत्यधिक खंडित बाजार और अस्थिर वस्तुओं की कीमतों के साथ, यह भारतीय किसान के लिए एक ' निष्पक्ष ' और ' लाभकारी ' मूल्य सुनिश्चित करने के लिए एक चुनौती है । इन को ध्यान में रखते हुए सरकार ने कई सुधारों की शुरुआत की । इस सब में, हाजिर और व्युत्पंन व्यापार में मौजूदा संस्थाओं के मजबूत बनाने के रूप में महत्वपूर्ण हो गया है कमोडिटी बाजार में देश के विविध और बड़े वस्तु पारिस्थितिकी तंत्र में हितधारकों के लाखों लोगों के जीवन को प्रभावित करते हैं ।

Agri Commodities traded in India

ALSO READ:  जलवायु परिवर्तन आम फसल नुकसान का कारण बनता है