२०२१ के देवगड़ हापुस (अल्फांसो आम) का पहला लॉट आ गया

2021 के देवगड़ हापुस अल्फांसो आम के पहले ही दो बॉक्स एपीएमसी, नवी मुंबई में आ चुके हैं। हापुस आम का सीजन शुरू होने से व्यापारियों में उत्साह का माहौल बना हुआ है। मार्केट कमेटी के व्यापारियों को उम्मीद है कि हापुस आम के सीजन से बाजार को बढ़ावा मिलेगा, जो साल भर से चल रहे कोरोना संकट से अपंग हो चुक
ा है। देवगड़ के कुनकेश्वर के किसान शंकर नैनेरकर ने फल बाजार के व्यापारी अविनाश पंसरे को हापुस आम की दो पेटियां भेजी हैं। मौसम का पहला आम पल-पल का आम माना जाता है। इसलिए यह भी प्रार्थना की जाती है कि इस आम की ठीक से पूजा करने से पूरा मौसम ठीक से चलेगा। अनादिकाल से चली आ रही इस परंपरा को आज के व्यापारी आज भी संजोए हुए हैं। इसलिए बाजार में आए हापुस आम के बॉक्स की पूजा की गई। हापुस न
े अब जनवरी के पहले सप्ताह में बाजार में प्रवेश कर लिया है। हालांकि कोंकण में हापुस का मुख्य सीजन अभी शुरू होना बाकी है। हालांकि तस्वीर यह है कि इस साल आम का उत्पादन कम रहेगा। आंधी से पेड़ों को हुए भारी नुकसान और अब उसमें गिर रही कड़ाके की ठंड के कारण आम की मंजरी गिर रही है। इसलिए भले ही पल का आम बाजार में आ गया हो, लेकिन हापुस का मुख्य सीजन देरी से आएगा। व्यापारी अविनाश पंसारे ने जानकारी दी है कि मार्च के पहले सप्ताह में हापुस आम का असली सीजन शुरू हो जाएगा। साफ है कि इस साल आम देर से पहुंचेंगे और आमों का औसत उत्पादन हर साल की तुलना में कम होगा।

ALSO READ:  जलवायु परिवर्तन आम फसल नुकसान का कारण बनता है

स्रोत: महाराष्ट्र टाइम्स